गुरु सत्ता की अमृतवाणी

Author: Pt Shriram sharma acharya

Web ID: 615

`3 Add to cart

Availability: In stock

Condition: New

Brand: AWGP Store

Preface

घिसने और टकराने से शक्ति उत्पन्न होती है , यह वैज्ञानिक नियम है ।। ईश्वर अपने प्रिय पुत्र मानव को शक्तिवान , प्रगतिशील, विकासोन्मुख,
चतुर, साहसी और पराक्रमी बनाना चाहता है ।। इसीलिए उसने समस्याओं और कठिनाइयों का एक बड़ा अंबार प्रत्येक मनुष्य के सामने खड़ा किया होता है ।।

- पं० श्रीराम शर्मा आचार्य

Author Pt Shriram sharma acharya
Publication Yug nirman yojana press
Publisher Yug Nirman Yojana Vistara Trust
Page Length 32
Dimensions 9 cm x 12 cm
  • 11:04:PM
  • 15 Apr 2021




Write Your Review



Relative Products